लाल किताब में ग्रहों और उनके भावों के आधार पर की गई गणना के अनुसार उनसे होने वाली हानियों से बचने के उपाय बताए गए हैं। लाल किताब के उपाय (Remedies) जातक की लाल किताब पर आधारित कुंडली के अनुसार ही बताए जा सकते हैं अन्यथा यह उपाय दुष्परिणाम भी दे सकते हैं। अगर आपके पास लाल किताब के अनुसार बनी कुंडली है तो आप अपना भविष्यफल जान सकते और अपने जीवन में आ रही कठिनाइयों को दूर कर सकते हैं। …

babay

लाल किताब एवं संतान योग

कुण्डली का पांचवा घर संतान भाव के रूप में विशेष रूप से जाना जाता है (The fifth house of the Lal Kitab stands for progeny). ज्योतिषशास्त्री इसी भाव से संतान कैसी होगी, एवं माता पिता से उनका किस प्रकार...

Read More
llakitab

लाल किताब में चंद्रमा

चन्द्रमा शुभ ग्रह है.यह शीतल और सौम्य प्रकृति धारण करता है.ज्योतिषशास्त्र में इसे स्त्री ग्रह के रूप में स्थान दिया गया है.यह वनस्पति, यज्ञ एवं व्रत का स्वामी ग्रह है. लाल किताब में सूर्य के समान चन्द्रमा को भी...

Read More
sarp[1]

लाल किताब में कालसर्प दोष

लाल किताब के तरीके से कालसर्प दोष शमन राजीव रंजन यह सही है कि लाल किताब में कालसर्प दोष का वर्णन प्राप्त नहीं होता है। फिर भी लाल किताब के आधार पर राहु तथा केतु की शांति तथा प्रसन्नता...

Read More
b4[1]

लाल किताब में बृहस्पति – सूर्य की युति

ग्रहों में शुक्र को विवाह व वाहन का कारक ग्रह कहा गया है (Venus is the Karak planet of marriage and transportation). इसलिये +वाहन दुर्घटना से बचने के लिये भी ये उपाय किये जा सकते है.शुक्र के उपाय करने...

Read More
red[1]

वर्तमान समय में लाल किताब का उपयोगिता

ज्योतिष के अन्तर्गत समय को जानने का बहुत सारी बिधाएं हैं. ज्योतिष की प्रत्येक शाखा में अपने -2 तरीके से उपाय करने का विधान (Two types of methods in astrology) हैं जैसे कि रत्नो के द्वारा भी कमजोर ग्रहो...

Read More